‘हमें पता होता तो उन्हें वहीं ना रोक लेते’, रिपोर्टर ने हर्षल पर पूछा सवाल तो हार्दिक ने कर दी बोलती बंद

मोहाली टी-20 में हार के बाद भारतीय तेज़ गेंदबाज़ हर्षल पटेल की काफी आलोचना की जा रही है। हर्षल को 18वें ओवर में 22 रन पड़े थे जिसे मैच का टर्निंग पॉइंट माना जा रहा है।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी-20 में हार के बाद तेज़ गेंदबाज़ हर्षल पटेल को काफी ट्रोल किया जा रहा है। दरअसल, ऑस्ट्रेलिया की पारी का 18वां ओवर हर्षल पटेल ने किया जिसमें उन्होंने 22 रन लुटवा दिए और इसी ओवर को मैच का टर्निंग पॉइंट भी माना जा रहा है।

इस मैच में हार के बाद भारत के स्टार ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आए जहां उनसे एक पत्रकार ने हर्षल पटेल को लेकर सवाल पूछा और हार्दिक ने भी अपने जवाब से रिपोर्टर की बोलती बंद कर दी।

 

हार्दिक ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 30 गेंदों में नाबाद 71 रनों की पारी खेली और भारत को 208/6 के शानदार स्कोर पर पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। ये उनका ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सर्वोच्च स्कोर भी था। प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब पत्रकार ने पांड्या से पूछा कि क्या इस मैच का टर्निंग पॉइंट हर्षल पटेल का 18 वां ओवर था जिसमें 22 रन आए, तो हार्दिक ने कहा कि किसी को ‘पॉइंट’ नहीं करना चाहिए।

हार्दिक ने रिपोर्टर के सवाल का जवाब देते हुए कहा, “आप बताओ, मुझे नहीं पता, हमको पता होता तो वही नहीं रोक देते ना। देखो सर, पिनपॉइंट नहीं कर सकते। उनके टाइम पे भी एक ओवर में 24-25 रन आए थे, उससे कुछ फर्क नहीं पड़ता। द्विपक्षीय सीरीज है, और दो मैच बाकी हैं हम उसमें कोशिश करेंगे कि अच्छा खेलें।”

 

हार्दिक के जवाब से जाहिर है कि हर्षल पटेल को मैच में हार का जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता क्योंकि वो चोट के बाद वापसी कर रहे थे और लय हासिल करने में थोड़ा समय लग सकता है।

दूसरी तरफ अगर इस सीरीज की बात करें तो टीम इंडिया के लिए बाकी बचे दोनों मैच करो या मरो जैसे हो गए हैं अगर रोहित शर्मा की टीम यहां से एक भी मैच हारी तो अपने ही घर में टी-20 सीरीज भी हाथ से निकल जाएगी।